मुख्य मंत्री तीर्थ दर्शन योजना (Mukhyamantri Teerth Darshan Yojana)

0
400
Mukhyamantri-Teerth Darshan Yojana in hindi - india yojna
Mukhyamantri Teerth Darshan Yojana in hindi - india yojna

नमस्ते दोस्तों ! आज मै आपको मुख्य मंत्री तीर्थ दर्शन योजना (Mukhyamantri Teerth Darshan Yojana) के बारे में बताऊंगा |

India Yojna : मुख्य मंत्री तीर्थ दर्शन योजना (Mukhyamantri Teerth Darshan Yojana)

मध्य प्रदेश के बड़े बुजुर्ग को ये जानकर प्रसन्त्ता होगी की मध्य प्रदेश की सरकार ने उनके लिए एक योजना का निर्माण किया है | जिसका नाम है मुख्य मंत्री तीर्थ दर्शन योजना |

इस योजना का मुख्य उद्देश्य, जो बड़े बुजुर्ग जिनकी उम्र 60 वर्ष से ऊपर हो चुकी है और अगर वो अपने जीवन काल में एक बार तीर्थ यात्रा करना चाहते है | तो तीर्थ दर्शन करवाने के लिए सरकार की तरफ से यह योजना बनायी गयी है |

हम जानते है की तीर्थ यात्रा करने के लिए बहुत सारे पैसे खर्च हो जाते है | जिसके कारण वो तीर्थ यात्रा में नहीं जा पाते है | बड़े बुजुर्ग की सुविधा के लिए इस योजना को आरंभ किया गया है |

मुख्य मंत्री तीर्थ दर्शन योजना (Mukhyamantri Teerth Darshan Yojana) की शुरुआत हमारे मध्य प्रदेश के मुख्य मंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की थी | इस योजना का आरंभ मुख्य मंत्री जी ने वर्ष 2012 में की थी |

मुख्य मंत्री तीर्थ योजना के अंतर्गत जो बड़े बुजुर्ग है या जो 60 वर्ष से अधिक है उनके के लिए एक बार फ्री तीर्थ यात्रा कराना है | 

हमारे प्रदेश में बहुत से लोग गरीबी रेखा के नीचे आते है | जिसके चलते वो कही भी तीर्थ यात्रा के लिए नही जा सकते है | ऐसे में हमारे मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री जी ने प्रदेश से बाहर के तीर्थ स्थानों की जगह को निशुल्क यात्रा कराने के लिए ये योजना बनाई है | इस योजना में हमारे प्रदेश की सरकार ने बाहर के तीर्थ स्थानों के जगहों की सूची तय की हैं | 

इस योजना का लाभ लेने के लिए निर्धारित तीर्थ स्थलों में से किसी एक जगह के लिए आवेदन फॉर्म भरकर जमा करना होता है | फॉर्म किस तरह से मिलेगा और कैसे भरा जायेगा इसकी जानकारी हम आपको बतायेगे |

Mukhyamantri Teerth Darshan Yojana – In Short

1.योजना का नाम मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना 
2.योजना की अगस्त 2012
3.योजना के शुरुआत किसने की शिवराज सिंह चौहान
4.विभागधार्मिक ट्रस्ट और एंडॉमेंट्स विभाग
5.आवेदन फॉर्म  कहा से प्राप्त करेtirthdarshan.mp.gov.in
6.लक्ष्य 5 लाख लाभार्थी 
7.फॉर्म कहा जमा करे तहसील या उप तहसील 
8.योजना का लाभ किसे मिलेगा वरिष्ठ नागरिक या 60 के ऊपर 
9कितने वर्ष के दोबारा आवेदन कर सकते है 5 वर्ष
10.हेल्पलाइन नंबर07552767116
Mukhya mantri Teerth Darshan Yojana

मुख्य मंत्री तीर्थ दर्शन योजना के लिए पात्रता 

  1. मुख्य मंत्री तीर्थ दर्शन योजना (Mukhyamantri Teerth Darshan Yojana) का लाभ लेने के लिए वरिष्ठ नागरिक को मध्य प्रदेश का निवासी होना चाहिये क्योकि यह योजना केवल मध्य प्रदेश के निवासी के लिए है |
  2. मध्य प्रदेश के वरिष्ठ नागरिक को इस योजना का लाभ लेने के लिए 60 वर्ष या उससे अधिक का होना चाहिए |
  3. वरिष्ठ नागरिक के साथ एक व्यक्ति सहायक के रूप में निःशुल्क यात्रा कर सकते है |
  4. इस योजना का लाभ आवेदक एक बार ही ले सकता है | लेकिन योजना में मुख्य मंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कुछ संशोधन किये है | अब इस योजना का लाभ आवेदक 5 वर्ष के बाद दोबारा ले सकता है |
  5. तीर्थ यात्रा करने वाले वरिष्ठ नागरिक कोई भी बीमारी जैसे साँस लेने में कठिनाई, कुष्ठ रोग, ह्रदय रोग आदि से संक्रमित नही होना चाहिए | वो एक दम फिट/स्वस्थ होना चाहिए |

मुख्य मंत्री तीर्थ दर्शन योजना के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज़

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक का मध्य प्रदेश का मूल निवासी प्रमाण पत्र होना चाहिए |
  • इस योजना में आवेदक का राशन कार्ड, बी.पी कार्ड होना चाहिए |
  • आवेदक का वोटर आई डी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस इत्यादि होना चाहिए |
  • मुख्य मंत्री तीर्थ दर्शन योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक का मनरेगा जॉब कार्ड होना चाहिए |

मुख्य मंत्री तीर्थ दर्शन योजना का आवेदन किस प्रकार करे

  • मुख्य मंत्री तीर्थ दर्शन योजना (Mukhyamantri Teerth Darshan Yojana) का आवेदन ऑफलाइन किया जाता है |
  • इस योजना का आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको राज्य सरकार की वेबसाइट  tirthdarshan.mp.gov.in खोलना होगा | इस वेबसाइट से आप ऑनलाइन फॉर्म डाउनलोड कर सकते है | 
  • वेबसाइट खोलने के बाद वेबसाइट के होम में सबसे ऊपर फॉर्म की लिंक होगी | उस लिंक पे क्लिक करके आप फॉर्म प्राप्त कर सकते है |
  • फॉर्म को डाउनलोड करने के बाद उसमे आपको अपनी जानकारी सही से भरनी होगी | यदि कोई भी जानकारी गलत पाई जाती है तो आपका आवेदन रद्द हो जायेगा |
  • फॉर्म भरने के बाद सम्पूर्ण दस्तावेज के साथ आवेदन पत्र की 2 कॉपी करके दिए गए समय के अन्दर अपने तहसील या उप तहसील में जाके जमा कर दे |
  • यदि वरिष्ठ नागरिक समूह में जाना चाहते है, तो पूरे समूह को एक आवेदन के रूप में माना जायेगा | लेकिन एक समूह में 25 वयक्ति से ज्यादा नही होना चाहिए | इसमें से एक वयक्ति सहायक के रूप में शामिल होगा |

मुख्य मंत्री तीर्थ दर्शन योजना चयन प्रकिया 

  • इस योजना में तीर्थ दर्शन में जाने वाले यात्रियों का चयन जिले के जिलाधिकारी द्वारा किया जायेगा | सबसे पहले उनका चयन किया जायेगा जिनका आवेदन पहले आया है |
  • यदि यात्रीगण कोटा से ज्यादा अधिक होते है तो उनका चयन लाटरी (Lottery) के माध्यम से किया जायेगा | 10 % कोटा की वेटिंग लिस्ट भी जारी की जाती है 
  • इस योजना का लाभ सरकार तीर्थ यात्रियों को जितनी सुविधा प्रदान कर रही है, अगर उसके अलावा भी यात्रीगण सुविधा लेना चाहते है तो उन्हें इनके लिए अलग से भुगतान करना होगा |
  • इस योजना में जाने वाले यात्रियों की स्वास्थ की भी जाँच की जाएगी और इसकी जाँच कलेक्टर द्वारा की जाएगी |
  • इस योजना में राजस्व विभाग के शासकीय अधिकारी को यात्रियों के साथ भेजने की व्यवस्था की जाएगी |

मध्य प्रदेश के तीर्थ दर्शन योजना में जाने वाले जगहों के नाम व स्थान 

  1. श्री जगन्नाथ पूरी – जगन्नाथ पूरी एक हिन्दू मंदिर है | जो भगवान श्री कृष्ण को समर्पित है और यह भारत उड़ीसा राज्य के तटवर्ती शहर पूरी में स्थित है | जगन्नाथ शब्द का अर्थ है जगत का स्वामी होता है |
  2. श्री केदारनाथ – यह मंदिर भारत के उतराखंड राज्य के रुद्रप्रयाग जिले में स्थित है | यह मंदिर अप्रैल से नवम्बर माह के बीच दर्शन करने के लिए खुलता है | 
  3. श्री बद्रीनाथ – श्री बद्रीनाथ मंदिर एक हिन्दू मंदिर है | यह मंदिर भगवान विष्णु जी को समर्पित है | यह राज्य उतराखंड के चमोली जनपद में अलकनंदा नदी के तट पर स्थित है |  
  4. हरिद्वार – यह मंदिर पवित्र तथा हिन्दुओ का प्रमुख तीर्थ है | यह उतराखंड के हरिद्वार जिले में स्थित है | यह बहुत प्राचीन नगरी है |
  5. श्री द्वरिका पूरी – यह मंदिर हिन्दू तीर्थ स्थल है | यह गुजरात के देवभूमि द्वरिका जिले में स्थित है | यह मंदिर भारत के पश्चिम में समुद्र के किनारे में बसी है |
  6. अमरनाथ – अमरनाथ हिन्दुओ का प्रमुख तीर्थस्थल है | यह मंदिर कश्मीर राज्य के श्री नगर शहर के उत्तर पूर्वे में 135 मीटर दूर समुद्र तल से 13,600 फुट की उचाई पर स्थित है | यह भगवान शिव के प्रमुख् धार्मिक स्थलों में से एक है | क्योकि यही पे माता पार्वती जी ने शिव को अमरत्व का रहस्य बताया था |
  7. वैष्णो देवी – वैष्णो देवी मंदिर हिन्दू मंदिर में से एक है | यह भारत के जम्मू और कश्मीर में वैष्णो देवी की पहाड़ी पर स्थित है | तथा यहां की अधिष्ठात्री देवी महासरस्वती महालक्ष्मी तथा महाकाली है जोकि भवन की एक पवित्र गुफा में पिंडी रूप में स्थित है।इस धार्मिक स्थल की आराध्य देवी, वैष्णो देवी को सामान्यतः माता रानी और वैष्णवी के नाम से भी जाना जाता है।
  8. शिर्डी– शिर्डी महाराष्ट्र अहमदनगर जिला के रहता तहसील के अंतर्गत एक क़स्बा है | शिर्डी साईं बाबा के समाधी मंदिर के लिए प्रसिद्ध है | साईं मंदिर विश्व के सबसे आमिर मंदिरों में से एक है | 
  9. तिरुपति –  तिरुपति मंदिर भारत के सबसे प्रसिद्ध तीर्थ स्थलों में से एक है | यह आन्ध्रप्रदेश के चितूर जिले में स्थित है | यह मंदिर कई शताब्दी पूर्व बना यह मंदिर दक्षिण भारतीय वास्तुकला और शिल्पकला का अद्भुत उदहारण है |
  10. अजमेर शरीफ – अजमेर शरीफ मुस्लिमो का दरगाह है | अजमेर शरीफ राजस्थान राज्य के अजमेर नगर में स्थित है | 
  11. काशी – काशी नगरी संसार के सबसे पुरानी नगरी माना जाता है | काशी नगरी वाराणसी शहर में स्थित है | यह नगरी उत्तर प्रदेश के दक्षिण पूर्वी कोने में वरुणा और असी नदियों के गंगा संगमो के बीच बसी हुई है |  
  12. गया – वाराणसी की तरह गया की प्रसिद्ध मुख्य रूप से एक धार्मिक नगरी के रूप में है | प्रितुपक्ष के अवसर पर यहाँ हजारों श्रद्धालु पिंडदान के लिए आते है | गया, बिहार और झारखंड की सीमा और फल्गु नदी के तट पर बसा भारत के बिहार राज्य का दूसरा सबसे बडा शहर है |
  13. अमृतसर – अमृतसर भारत के पंजाब राज्य का एक शहर है | यह मंदिर पंजाब का सबसे महत्वपूर्ण और पवित्र शहर माना जाता है | क्योकि यहाँ सिक्खों का सबसे बड़ा गुरूद्वारा स्वर्ण मंदिर अमृतसर में ही है |
  14. रामेश्वरम – यह मंदिर हिन्दुओ का प्रमुख तीर्थ है | यह तमिलनाडु के रामनाथपुरम जिले में स्थित है | भारत के उत्तर में कशी की जो मान्यता है, वही दक्षिण में रामेश्वरम की है |
  15. पटना साहेब गुरुद्वारा बिहार – यह मंदिर पटना शहर के स्थित सिक्ख आस्था से जुड़ा यह एक ऐतिहासिक दर्शनीय स्थल है | यह सिक्खों के गुरु गोविन्द सिंह का जन्म स्थान है | यह महराजा रंजीत सिंह द्वारा बनवाया गया गुरुद्वरा है जो स्थापित कला का सुन्दर नमूना है |
  16. सम्मेद शिखर –  सम्मेद शिखर जैन धर्म के मानने वालो का प्रमुख स्थल है | यह जैन तीर्थो में सर्वश्रेष्ठ शिखर माना जाता है | यह भारत के झारखंड राज्य के गिरिडीह जिले में छोटा नागपुर पठार पर एक स्थित एक पहाड़ी है |
  17. श्रवण बेलगोला और वेलंगादी चर्च – यह एक हासन जिला में स्थित है | यह बंगलुरु से 158 किलो मीटर दूर स्थित है | यह एक प्रसिद्ध जैन तीर्थ है |
  18. नागापट्टिनम  – नागापट्टिनम बंगाल की खाड़ी के तट पर बसा एक शहर है | जो अपने धार्मिक धरोहरों के लिए पूरे राज्य में प्रसिद्ध है | तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई से 320 किलो मीटर दूर स्थित इस जिले का गठन 1991 में तंजावुर जिले को काट के किया गया था |

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना  की विशेषताएँ (Key Features of Mukhyamantri Teerth Darshan Yojana)

इस योजना की कुछ विशेषताएँ हैं –

  • धर्मिक स्थान :- इस योजना के तहत व्यक्ति सभी धार्मिक स्थल में जा सकता है | इसकी जिम्मेदारी रेलवे विभाग को दी गयी है | आप चाहे जिस भी धर्म के हो और चाहे जिस भी तीर्थ स्थल जाना चाहते है, वहा आप जा सकते है |सरकार सभी धर्मो का बराबर सम्मान करती है |
  • मुफ़्त में दर्शन :- इस योजना के अंतर्गत सभी बुजुर्ग (जिसकी उम्र 60 साल या उससे ऊपर हो) यात्रियों को मुफ़्त में तीर्थ दर्शन कराया जायेगा | उन्हें किसी भी प्रकार का कोई भी व्यय नहीं करना होगा |
  • पहली ट्रेन :- मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत पहली तीर्थ यात्रा ट्रेन 3 सितम्बर, 2012 को भोपाल के हबीबगंज रेल्वे स्टेशन से शुरू हुई थी जोकि रामेश्वरम के लिए रवाना की गई थी |
  • लाभार्थियों की तीर्थ यात्रा के लिए अच्छी और सुलभ व्यवस्था करने के उद्देश्य से राज्य और जिला स्तर पर समितियों के गठन किया गया है | इससे बुजुर्ग व्यक्ति को किसी दिक्कत का सामना नही करना पड़ता |
  • कुल ट्रेनें :- इस योजना में वरिष्ठ नागरिकों के तीर्थ यात्रा के लिए लगभग 100 ट्रेनें अलग – अलग धार्मिक स्थलों पर चलाई गई है और योजना की लोकप्रियता के अनुसार यह दोगुनी भी की जा सकती है | लगभग 1000 यात्री एक ट्रेन में यात्रा कर सकते हैं |
  • अन्य सुविधा :- इस यात्रा के दौरान बुजुर्गों के भोजन, बीमा, चिकित्सा उपचार और गाइड आदि की भी पूरी व्यवस्था की जाएगी.

Download Mukhyamantri Teerth Darshan Yojana Form

अगर आप मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना का फॉर्म डाउनलोड करना चाहते है तो उसे यहाँ से डाउनलोड कर सकते है |

निचे दिए हुए बटन पर क्लिक करके फॉर्म डाउनलोड करे

Also Read these :

  1. मुख्य मंत्री स्वरोजगार योजना
  2. Naya Savera (Sambal Yojana) – KYC for New Card
  3. MP Scholarship Portal 2.0 – Detail in Hindi